An effort to spread Information about acadamics

Blog ( लेख )

  • BY:RF Temre (553)
  • 0

भारतीय संविधान की प्रस्तावना की प्रकृति व महत्व | Nature and Importance of the Preamble of the Indian Constitution

किसी भी देश के संविधान का अपना एक निर्देशक-दर्शन होता है। इसका विवरण संविधान की प्रस्तावना में मिलता है। संविधान का मूल दर्शन 'प्रस्तावना' कहलाता है।

Read more
  • BY:RF Temre (340)
  • 0

The making of the Indian Constitution | भारतीय संविधान का निर्माण | Samvidhan Nirman

संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 में हुई थी। डॉ. सच्चिदानंद सिन्हा को अस्थायी अध्यक्ष चुना गया था। 11 दिसम्बर 1946 को संविधान के स्थायी अध्यक्ष के रूप में डॉ. राजेंद्र प्रसाद को चुन लिया गया।

Read more
  • BY:RF Temre (338)
  • 0

संविधान के स्रोत | source of indian constitution

विश्व में सबसे लंबा संविधान भारत का है। भारतीय संविधान लिखित है। इसमें कुल 22 भाग, 395 अनुच्छेद और 12 अनुसूचियाँ हैं। भारतीय संविधान हेतु तथ्य अन्य देशों के संविधान से ग्रहण किए गए।

Read more

Follow us

Catagories

subscribe