An effort to spread Information about acadamics

Blog ( लेख )

  • BY:RF Temre (679)
  • 0

केशव दास रचित– गणेश वन्दना || सरल हिन्दी भावार्थ || Ganesh Vandna (Keshvdas)

गणेश जी अपने भक्तों की विपत्तियों और संकटों को इस प्रकार दूर कर देते हैं, जिस प्रकार हाथी का बच्चा कमलिनी के पत्तों को आसानी से तोड़ देता है।

Read more

Follow us

Catagories

subscribe